Feeds:
Posts
Comments

Archive for November, 2011

मेरा अकेलापन आज फिर मुझसे था मिलने आया

सामने मेरे बैठ गया, झाँक कर मुझमे कुछ देखा उसने

कुछ रफ़्तार से चल रहा था मैं, मुझको था वोह रोकने आया

कुछ देर तलक बैठे हम दोनों, गुफ्तगू का दौर शुरू किया उसने

बहुत करीब आकर भी वोह वाकिफ सा नहीं नज़र आया |

 

क्यों मैं चला जा रहा हूँ ऐसे, कोई एहसास क्यों होता नहीं

मैं क्या खो रहा हूँ खुद से, ऐसा कुछ उसने मुझे समझाया

लौट चलो उस दौर में, जहाँ सिर्फ आगाज़ है

लफ़्ज़ों का दायरा था मेरे दिमाग में, फिर भी मैंने खुद तो चलता पाया |

 

ज़हन में सवाल हैं, ख्याल हैं और हैं बहुत सी रंगीनिया

पर हर रंग का रंग बेरंग सा क्यों हैं अब तक पाया

वो सामने बैठा था इस अंदाज़ में, कि जीवन था झलक रहा

किसको देख रही है नज़र, क्या वोह है मुझमे समाया |

 

वक़्त की रफ़्तार थी बढ़  रही, उस दौड़ में था मैं शामिल

किस मुकाम पर है रुकना, ऐसा अब तक नहीं है समझ आया

मुझको मुझसे परिचित करा कर, वोह आगे सा बढ़ने लगा

ओझल सा वोह होने लगा, पर अब मैंने था फिर से खुद को पाया||

 

@saxenaas @kanchan

Advertisements

Read Full Post »

There are many road warriors out there who may beat this story but this week I saw myself becoming one. Hopped on a plane Sunday night, another one Monday night, and another one on Tuesday night and yet another one Wednesday night! It almost felt like navigating Google maps to find a town except that I actually traveled to such places.

So what is it like? Definitely not fun when you find yourself spending more time at the airport than in a bed. But it has it’s own charm. When I am at the airport I make it a point to the local gift shop because that’s one place where you get to learn something about the town/city. Try driving through the downtown, particularly if it is a small town or village. You will find the experience soothing if you are used to living in a big city. Recently I have tried doing one more thing – eating at local restaurants rather than popular chains. You will find amazing food at the local places because most of the time owners use traditional recipes and put their lifetime’s worth of hard work in serving you.

Even with a busy schedule you can create some fun for yourself. It only helps you by relieving some of that work pressure and by relaxing your airplane back!

Read Full Post »

%d bloggers like this: